Five Generations of Computer in Hindi | कंप्यूटर की 5 पीढ़ी

Friends, today we are explaining about Five Generations of Computer in this post. Yaha par computer ki 1st, 2nd, 3rd, 4th & 5th generation Hindi language me janiye & learn computer in Hindi.

Five Generations of Computer

What is generations of computer / कंप्यूटर की 5 पीढ़ी या जनरेशन

16 वीं शताब्दी में development of computer आरम्भ हो चुका था. आज के modern कम्प्यूटर्स इसका नतीजा हैं. कंप्यूटर के विकास में बहुत ही जल्दी जल्दी बदलाव आया, हर एक Generation के बाद, कंप्यूटर के size में, काम करने के तरीके में बहुत ही तरक्की हुई है, आज के कंप्यूटर बहुत ही ज़्यादा advanced & fast हैं. इन सब चीज़ों की वजह से कम्प्यूटर्स में बहुत सारे बदलाव आये जिसने कंप्यूटर की अलग अलग generations को जन्म दिया और अलग अलग तरह के कम्प्यूटर्स का निर्माण हुआ. Learn about Full Form of Computer.

हम इन्हें Generation of Computers से जानते हैं. कंप्यूटर में 5 तरह की पीढ़ी हैं –

Facts about first generation of computer / कंप्यूटर की 1st पीढ़ी 

Technology: 1st generation के कंप्यूटर 1940 में start हुए थे और यह 1956 तक चले. पहली पीढ़ी के कम्प्यूटर्स में vaccum tube का प्रयोग किया गया था.

Usages: यह electronic signal को अनुकूल करती थी और ज़्यादा भी कर सकती थी. इन का प्रयोग गणनाओं करने में काम आता था.

Size: इस पीढ़ी के कंप्यूटर बहुत ही बड़े होते थे और इनको सही से रखने के लिए बहुत ही बड़े कमरों की ज़रूरत होती थी. क्यों की यह बहुत ही बड़े थे इस लिए इन्हें air conditioner की ज़रूरत होती थी.

Languages: Programs को high-level language से machine level language या assembly language में retranslate किये जाते थे. Machine तथा assembly language में इस कम्प्यूटर्स में programming की जाती थी.

Memory: इस generation में कंप्यूटर internal memory के रूप में magnetic drum का प्रयोग करते थे.

Also read other info:

What is Computer in Hindi

Full form of PDF

What is LCD Full Form

Introduction about the second generation of computer / कंप्यूटर की 2nd पीढ़ी

Technology: 1956 में 2nd generations  कम्प्यूटर्स शुरू हुए और यह 1963 तक प्रयोग हुए. इस पीढ़ी के कम्प्यूटर्स में vacuum tubes की जगह transistor काम में आने लगे.

Size: 1947 में इसका विकास William Shockley ने किया था. कम्प्यूटर्स छोटे, सस्ते और अधिक तेज़ हो चुके थे.

Programming: First generations के साथ तुलना की जाए तो यह कम ऊर्जा का उपयोग करते थे. Programming करना इन कम्प्यूटर्स के लिए सम्भव था.

Memory: इन कम्प्यूटर्स में भी memory के लिए magnetic tape का प्रयोग किया जाता था. What is RAM full Form?

 

Facts about third generation of computer / कंप्यूटर की 3rd पीढ़ी

Tech: Third generation में कम्प्यूटर्स 1964 में आए और ये 1971 तक चले. Transistors को छोटा किया गया और उनको Silicon chips पर रखा गया था, जिसे semi-conductors के नाम से जाना जाता है.

Size: इन्होने 3rd generation के कम्प्यूटर्स की रफ्तार को बड़ा दिया क्यूंकि IC में capacitor , register और transistor तीनो ही हैं, जिसके कारण कंप्यूटर का size बहुत ही छोटा हो गया था.

Usage: इन कम्प्यूटर्स पर एक ही समय पर अलग अलग काम हो सकते हैं. Scale integrate circuit की वजह से इन कम्प्यूटर्स की रफ्तार micro seconds से nano seconds हो चुकी थी.

Languages/Plateform: Operating System का प्रयोग भी इन पीढ़ी के कम्प्यूटर्स में होने लगा. इस पीढ़ी में BASIC का भी विकास हुआ, जिसके कारण कंप्यूटर और तेज़ हो गया था.

 

Introduction of fourth generation computer / कंप्यूटर की 4th पीढ़ी

  • 1971 से लेकर अब तक चौथी पीढ़ी के कम्प्यूटर्स चल रहे हैं. यह कंप्यूटर आज के दौर में चलते हैं और अब और भी ज़्यादा विसकित हो रहे हैं.
  • Fourth generation के कम्प्यूटर्स में microprocessor का प्रयोग होने लगा. microprocessor chips इसी generation में बनाए गए.
  • Code 0 और 1 का उपयोग होने लगा. यह generation के कम्प्यूटर्स Binary digits के रूप में जाने जाते हैं, और ये कंप्यूटर बहुत ही छोटे होते हैं और हाथ में आराम से आ जाते है.
  • इन कम्प्यूटर्स को सस्ता और तेज़ रफ्तार से चलने वाला बनाया गया. 4th generation में ही input device जैसे की Mouse और अन्य devices Joystick को विकसित किया गया.
  • एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डाटा भेजने के लिए इनको network के साथ जोड़ा गया. एक छोटी सी चिप में ही लाखों ट्रांजिस्टर समा सकते हैं. सबसे पहला Micro कंप्यूटर MITS कंपनी ने बनाया था.
  • Intel और AMD दुनिया की सबसे बढ़ीं 2 कंपनियां हैं जो microprocessor बनाती हैं. तेज़ रफ्तार वाले नेटवर्क विकसित हुए जिसे local area network और wide area network कहते हैं.
  • MS DOS जो की एक operating system है, उसका प्रयोग इसी पीढ़ी में पहली बार हुआ था. कुछ समय बीतने के बाद microsoft windows भी आईं. इसके कारण multimedia बहुत चर्चित हुई.
  • इसी समय में C programming language का विकास भी हुआ था, जिसके कारण programming करना बहुत ही आसान हो चुका था. Personal computer के रूप में हम आज कंप्यूटर का उपयोग करने लगे हैं. Full Form of PC in Hindi.

 

Information about computer’s fifth generation/ कंप्यूटर की 5th पीढ़ी

अभी तक यह नहीं कहा जा सकता की fifth generation of computers किस दिशा में जायगी क्यूंकि इस पर और भी काम हो रहा है.

Ultra Large Scale Integration (ULSI) पर आधारित है पांचवी पीढ़ी के कम्प्यूटर्स. यह generation artificial intelligence के आधार पर काम करेगी. यह कम्प्यूटर्स खुद ही सोचने की क्षमता रखते हैं. कम्प्यूटर्स को उस योग्य बनाया जा रहा है ताकि यह हर तरह का काम कर सकें. लोगों का काम आसान करने के लिए. इन कम्प्यूटर्स को काफी हद तक सफलता भी प्राप्त हो चुकी है. जैसे की – Google assistant , Windows cortana , और Apple siri आदि.

इसमें high level language का प्रयोग किया गया है. इसे बहुत ज़्यादा आसान Graphical User Interface (GUI) के ज़रिये बनाया जा रहा है. fifth generation के कम्प्यूटर्स किसी भी कार्य की मुसीबत को सुलझाने के लिए internet का प्रयोग करते हैं. ऐसा इसलिए क्यों की यह एक दूसरे के साथ network के द्वारा जुड़े होते हैं. Input Device in Computer.

इस पीढ़ी के कुछ कम्प्यूटर्स को इंसानों की तरह काम करने के योग्य बनाया जा रहा है जिन्हें robot के नाम से जाना जाता है. आपने अवश्य Marvel Iron Man मूवी तो देखी ही होगी, Tony Stark के J.A.R.V.I.S तथा F.R.I.D.A.Y का नाम भी सुना ही होगा, अगर नहीं सुना तो कोई बात नहीं. About DVD Full Form in Hindi.

JARVIS एक artificial intelligence system है जो की Iron Man से वार्तालाप कर सकता है. जैसे की Apple siri है वैसे ही यह है लेकिन यह siri से 200000 ज़्यादा उन्नत है. यह बहुत ही सारी बातचीत कर सकता है जैसे की – copy करना, simulation , hacking वह Iron man के सूट का प्रयोग कर सकता है. यह तो सिर्फ अभी तक एक imagination है, लेकिन ऐसा सुनने में आया है की 2050 तक हम artificial intelligence technology देख सकेंगे. अभी तक इस पर काफी research हो रही है. CD Full Form in Hindi.

Dosto, Yah post aapko Five Generations of Computer ka introduction dene ke liye publish ki gayi hai. Yah aapko kaisi lagi comment karke jaroor bataiye.

Apne dosto, relatives ke saath share karke unko bhi nayi technology janne ka mauka dijiye. Thanks

Originally posted 2018-06-26 12:46:19.

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code